Monday , 15 April 2024
Home देश Free Boring Yojana – इस योजना के तहत सरकार फ्री में करेगी आपके खेत में बोर 
देश

Free Boring Yojana – इस योजना के तहत सरकार फ्री में करेगी आपके खेत में बोर 

Free Boring Yojana - Under this scheme, the government will bore your fields for free.

यहाँ जाने आवेदन करने की प्रक्रिया 

Free Boring Yojana किसानों को फसलों की सिंचाई के लिए कोई परेशानी नहीं होनी चाहिए, इसलिए सरकार किसानों को सिंचाई यंत्रों और सिंचाई के साधनों पर सब्सिडी प्रदान करती है। किसानों को सरकार द्वारा सिंचाई के यंत्रों और साधनों पर 90 प्रतिशत तक सब्सिडी दी जाती है। इसके साथ ही, राज्य के किसानों को सिंचाई की सुविधा मुहैया कराने के लिए उन्हें खेत में बोरिंग करने के लिए 100 प्रतिशत तक सब्सिडी प्रदान की जा रही है। इस योजना के अंतर्गत, राज्य सरकार किसानों के खेतों में फ्री बोरिंग करा रही है ताकि उन्हें फसलों की सिंचाई के लिए पर्याप्त पानी उपलब्ध हो सके। इस योजना को अतिदोहन या क्रिटिकल विकास खंडों को छोड़कर प्रदेश के सभी जनपदों में लागू किया गया है। राज्य के किसान इस योजना के तहत आवेदन करके बिना किसी खर्च के फ्री बोरिंग का लाभ उठा सकते हैं।

पूरी तरह से सब्सिडी का लाभ | Free Boring Yojana

किसान को फ्री बोरिंग कराने के लिए पूरी तरह से सब्सिडी का लाभ मिलेगा। इस योजना के अंतर्गत, किसान को अपने खेत में बोरिंग करवाने के लिए अपनी जेब से कोई भी पैसा नहीं खर्च करना पड़ेगा। सरकार द्वारा पूरे खर्च की सहायता की जाएगी। इसके अतिरिक्त, किसानों को पंपसेट की व्यवस्था के लिए भी ऋण और सब्सिडी प्रदान की जाएगी। इस योजना के अंतर्गत, 70 मीटर गहराई तक प्रति मीटर 328 रुपये की दर पर अधिकतम 15,000 रुपये की सब्सिडी प्रदान की जाएगी। वहीं, 100 मीटर तक गहराई के लिए प्रति मीटर 597 रुपये की दर पर अधिकतम 35,000 रुपये की सहायता उपलब्ध होगी। इस योजना के तहत, अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति के छोटे और सीमांत किसानों को प्राथमिकता दी जाएगी।

किसे मिलेगा लाभ 

आवेदन करने वाला किसान राज्य स्थाई मूल निवासी होना चाहिए।
किसान के पास अपने नाम से कम से कम 40 डिसमिल भूमि होनी चाहिए।
किसान के खेत की गहराई 70 से 100 मीटर के बीच होनी चाहिए।
एक किसान को एक बार ही फ्री बोरिंग कराने के लिए अनुदान का लाभ दिया जाएगा।

कैसे करें आवेदन | Free Boring Yojana 

यदि आप उत्तर प्रदेश के किसान हैं, तो आप सिंचाई विभाग द्वारा संचालित इस योजना का लाभ उठा सकते हैं। खेत में फ्री बोरिंग करवाने के लिए आपको ऑनलाइन आवेदन करना होगा और आवश्यक दस्तावेज़ जमा करने होंगे। आवेदन के 15 दिनों के भीतर आपको फ्री बोरिंग के लिए मंजूरी दी जाएगी और कुछ दिनों बाद बोरिंग काम शुरू होगा। इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आपको उत्तर प्रदेश सरकार की आधिकारिक वेबसाइट https://minorirrigationup.gov.in/ पर जाकर आवेदन करना होगा। वहाँ, आपको होम पेज पर योजनाओं के विकल्प पर क्लिक करना होगा। उसके बाद, सिंचाई विभाग की बोरिंग योजनाओं की जानकारी दिखाई जाएगी, जैसे कि उथले बोरिंग, मध्यम गहरे बोरिंग, और गहरे बोरिंग। आपको अपनी आवश्यकतानुसार विकल्प चुनना होगा। योजना के चयन के बाद, संबंधित दिशा-निर्देश खुलेंगे, जिसे आपको पहले ही पढ़ लेना चाहिए। आपको इसके नीचे आवेदन फॉर्म का ऑप्शन भी मिलेगा। इसे डाउनलोड करें और भरें। साथ ही, आवश्यक दस्तावेज़ अपलोड करें। फॉर्म को सिंचाई विभाग में जमा करें, जो आपके आवेदन को सत्यापित करेगा। कुछ दिनों के बाद, आपके खेत में बोरिंग काम शुरू होगा।

फ्री बोरिंग योजना के बारे में अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए उत्तर प्रदेश के किसान सिंचाई विभाग की आधिकारिक वेबसाइट https://minorirrigationup.gov.in/ पर जाएं। वहाँ से आप योजना के बारे में सम्पूर्ण जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। इसके अतिरिक्त, किसान भाइयों को अपने जिले के सिंचाई विभाग से संपर्क करके इस विषय में और जानकारी प्राप्त करने का विकल्प भी है।

Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

जाने वन्दे भारत ट्रैन में क्या क्या मिलती है सुविधा और कितना आ सकता है इसका खर्चा | Vande Bharat

Vande Bharat: भारतीय रेल जल्‍द ही नई वंदे भारत स्‍पीलर एक्‍सप्रेस ट्रेनों...

Maha Shivratri Mehndi designs : महाशिवरात्रि श्रावण महोत्सव के अवसर  पर लगाएं ये खास मेहंदी डिजाइन 

इस महाशिवरात्रि पर्व पर कई महिलाएं मेहंदी लगाना पसंद करती हैं। इस...

MSP Price – सरकार ने तय किया गेहूं, सरसों व चने का MSP, जानिए कब से होगी खरीद

MSP Price – नई दिल्ली: भारत सरकार ने 2023-24 के रबी विपणन...

Kheti Kisani – खेतों में फसलों को सुरक्षित रखने सबसे फायदेमंद है नीम का तेल

कीटों को भी प्रभावी ढंग से करता है नियंत्रित  Kheti Kisani –...