Saturday , 24 February 2024
Home Health सर्दियों में बीमारियों से रहना है दूर , तो  करे इस फल का सेवन ,जानिए कौनसा है ये फल 
Health

सर्दियों में बीमारियों से रहना है दूर , तो  करे इस फल का सेवन ,जानिए कौनसा है ये फल 

सर्दियों में बीमारियों से रहना है दूर , तो  करे इस फल का सेवन ,जानिए कौनसा है ये फल।आयुर्वेदिक गुणों का खजाना है ये चमत्कारी फल, सर्दियों में खाने से दूर हो जाएंगी सारी बीमारियां, पहाड़ों में पाया जाता है ये फल, जानिए क्या है ये फल आज हम आपको एक ऐसे फल के बारे में बताएंगे जो पहाड़ों में पाया जाता है। यह फल चमत्कारी और आयुर्वेदिक गुणों से भरपूर है तो आइए जानते हैं यह कौन सा फल है।

सर्दियों में बीमारियों से रहना है दूर , तो  करे इस फल का सेवन ,जानिए कौनसा है ये फल 

यह चमत्कारी फल आयुर्वेदिक गुणों की खान है

तो आज हम आपको एक ऐसे फल के बारे में बताने जा रहे हैं जो आपकी सभी बीमारियों को दूर कर देगा। इस फल को आयुर्वेदिक गुणों का खजाना कहा जाता है। जो पहाड़ों में स्थित है. तो इस फल का नाम है काफल, इसका दूसरा नाम है जायफल जो सर्दियों में खाने में बहुत अच्छा लगता है. आपको बता दें कि काफल एक छोटा बेर जैसा फल होता है जो गोल, लाल, गुलाबी रंग का होता है। इसका स्वाद मीठा और बहुत रसीला होता है. , सर्दियों में काफल खाने से हमारा शरीर गर्म रहता है और काफल जैसे प्राकृतिक उपचार का उपयोग विशेष रूप से शिशुओं के लिए बेहद फायदेमंद होता है। जिनका इम्यून सिस्टम अभी भी विकसित हो रहा है.

आयुर्वेदिक गुणों का खजाना है ये चमत्कारिक फल, सर्दियों में खाने से दूर हो जाएंगी सारी बीमारियां, पहाड़ों में पाया जाता है ये फल, जानें क्या है ये फल
बस इसे पढ़ें: बवासीर से छुटकारा दिलाने और पाचन क्रिया को मजबूत करने में मदद कर सकती हैं चमत्कारी पत्तियां, दोबारा नहीं होगी बवासीर की बीमारी, जानिए कौन सी हैं वो पत्तियां

Read also :- Sarkari Yojna: घर में छत पर फल-फूल-सब्जी उगाने के , सरकार दे रही 37 हजार रु , उठाएं लाभ जानें कैसे करें आवेदन

सर्दियों में बीमारियों से रहना है दूर , तो  करे इस फल का सेवन ,जानिए कौनसा है ये फल 
सर्दियों में बीमारियों से रहना है दूर , तो  करे इस फल का सेवन ,जानिए कौनसा है ये फल 

इस बीमारी का रामबाण इलाज है फल

आपको बता दें कि भोजन के साथ काफल का सेवन करने से घाव, गठिया और चोटों के कारण होने वाले दर्द से राहत मिल सकती है। काफल चूर्ण को तिल के तेल में मिलाकर लगाने से गठिया और तंत्रिका दर्द सहित दर्द को कम किया जा सकता है। हालांकि, आपको काफल का सेवन करने से पहले एक बार अपने डॉक्टर से सलाह जरूर लेनी चाहिए।

आयुर्वेदिक गुणों का खजाना है ये चमत्कारिक फल, सर्दियों में खाने से दूर हो जाएंगी सारी बीमारियां, पहाड़ों में पाया जाता है ये फल, जानें क्या है ये फल
काफल कितनी मात्रा में खाना चाहिए
जैसा कि हम आपको बताते हैं, आधा चम्मच कफलू को सुबह खाली पेट चाटने से पेट, सर्दी और खांसी जैसी समस्याएं नहीं होती हैं। पेट दर्द होने पर काफल के तेल की चार-पांच बूंदें चीनी के साथ लेने से आराम मिलता है।

Read also :- गुड़हल के पौधे में केवल 1 बार  पानी में मिलाकर डाल दें यह चीज , पौधा फूलों से लद जाएगा

Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Idli Recipe: सिर्फ 10min में बनाये गरमा-गरम Tasty Healthy नाश्ता जिसके सामने पिज़्जा  लगे फीका , देखे आसान विधि

रवा इडली रेसिपी: आपको बता दें कि इडली दक्षिण भारत की मशहूर...

Handi Paneer Recipe : घर पर बनाएं रेस्ट्रोरेंट से भी स्वादिष्ट हांड़ी पनीर , जाने बनाने की रेसिपी

हांडी पनीर रेसिपी : अब घर पर बनाएं रेस्टोरेंट से भी ज्यादा...