Sunday , 19 May 2024
Home बैतूल आस पास Illegal Sand Excavation – वन विभाग क्षेत्र की जामू खदान से हो रहा रेत का अवैध उत्खनन
बैतूल आस पास

Illegal Sand Excavation – वन विभाग क्षेत्र की जामू खदान से हो रहा रेत का अवैध उत्खनन

बोले विभाग के कर्मचारी, तैनात है चौकीदार नहीं हो रहा खनन

भीमपुर -Illegal Sand Excavation वन विभाग क्षेत्र की जामू खदान से बड़े पैमाने पर रेत का अवैध उत्खनन और परिवहन ताप्ती नदी से किया जा रहा है। इस मामले में पश्चिम वन मंडल फॉरेस्ट डिप्टी प्रकाश यादव का कहना है कि अवैध उत्खनन हमारे क्षेत्र से नहीं होता है। हमारे चौकीदार वहां पदस्थ हैं फिर भी हो रहा है तो मैं देखता हूं। ग्रामीणों का कहना है कि पश्चिम वन मंडल और दक्षिण वन मंडल क्षेत्र के वन विभाग के घोघरा बीड गार्ड की मिलीभगत से हो रहा रेत का अवैध उत्खनन किया जा रहा है। जबकि जिले में खेत खदानें वर्तमान में बंद है। पश्चिम मंडल के चौकीदार सुरजा उइके ने बताया रोजाना दो दर्जन से अधिक ट्रैक्टर अवैध उत्खनन कर करते हैं यहां से परिवहन कर रहे हैं। आरोप है कि पश्चिम वन मंडल और दक्षिण मंडल के वन विभाग के बीट गार्ड की मिलीभगत से अवैध खनन हो रहा है।

दो दिनों से बेहताशा हो रहा परिवहन(Illegal Sand Excavation)

पश्चिम मंडल के घोघरा बीट जामू चौकीदार चिंचू ने बताया की मैं घोघरा जामू बीट का चौकीदार हूं उसने बताया कि रेत का अवैध उत्खनन घोगरा बीट से ही किया जा रहा है। वहीं बीट गार्ड आमिर सिंह रघुवंशी है रेत का अवैध उत्खनन लगातार तो नहीं चालू है परंतु 2 दिनों से बहुत अधिक मात्रा में रेत का अवैध उत्खनन ट्रैक्टर वाले कर रहे हैं। लगभग 20 से 25 टैक्टर रोजाना अवैध उत्खनन करते हैं।

अधिकारी नहीं कर रहे कार्यवाही(Illegal Sand Excavation)

सूत्र बताते है की वन विभाग की मिलीभगत से अवैध उत्खनन निरंतर चल रहा है। अवैध खनन क्षेत्र में दोनों वन विभाग के चौकीदार मौजूद मिले दोनों की आंख सामने अवैध उत्खनन किया जा रहा है। उन्होंने कहा बीड गार्ड व वन विभाग के वरिष्ठ अधिकारी को सूचना दे दी है फिर भी अवैध उत्खनन नहीं रुक पा रहा है। लाखों रुपए खर्च कर रेत माफियाओं ने रेत अवैध उत्खनन करने के लिए नदी के अंदर ही अंदर सडक़े बना ली है। ताज्जुब की बात है वन विभाग के नाक के नीचे अवैध खनन हो रहा है और सडक़े भी रातों रात बन गई है। रेत माफियाओं ने सडक़े बनाने के लिए लाखो रुपए का चंदा जमा किया फिर सडक़े बनाई गई है।
पिछले दशक में वन विभाग ने रेत माफियाओं पर कड़ी कार्रवाई की थी। लगभग 17 से 18 ट्रैक्टर इसी रेत खदान से जप्त किए थे। आज फिर बड़ी मात्रा में अवैध खनन जारी है। सूत्रों से जानकारी लगी है कि इस रेत अवैध उत्खनन में वन विभाग की बड़ी मिलीभगत मालूम पड़ती है। बीट प्रभारी आमिर सिंह रघुवंशी का कहना है खेत के आसपास से अवैध उत्खनन कर रहे हैं ट्रैक्टर वाले मैं कल था नहीं आज देखता हूं।

Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Kisan Yojana : किसानों को मिलेगा ऑनलाइन योजनाओं का लाभ

कृषि विभाग की अभिनव पहल Kisan Yojana – बैतूल – कलेक्टर एवं...

Vote Count – त्रि-स्तरीय अभेद्य सुरक्षा घेरे में होगी मतगणना : कलेक्टर

स्टैंडिंग कमेटी के सदस्यों को मतगणना प्रक्रिया से कराया अवगत, व्यवस्था से...

Betul News | ग्रामीणों ने पकड़ी गौवंश से भरी पिकअप

दो आरोपियों पर पुलिस ने किया केस दर्ज Betul News – मुलताई...

Jungli Suar Ka Hamla | सुअर के हमले में महिला घायल

तेंदूपत्ता तोड़ते समय जंगल में किया हमला Jungli Suar Ka Hamla –...