Saturday , 18 May 2024
Home राजनीती CMHO Ko Stay – मंच से सीएम ने हटाया वो CMHO स्टे लाया
राजनीती

CMHO Ko Stay – मंच से सीएम ने हटाया वो CMHO स्टे लाया

सीएमएचओ को सस्पेंड के आदेश पर मिला स्टे

CMHO Ko Stay – जबलपुर हाईकोर्ट ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के ऑन द स्पॉट निलंबन के एक आदेश पर स्टे ऑर्डर दिया है। इतना ही नहीं, इस एक्शन के लिए राज्य सरकार को नोटिस भी दिया है। मामला छिंदवाड़ा के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी जीसी चौरसिया का है। सीएम ने उनको 10 दिन पहले मंच से ही निलंबित करने के आदेश दिए थे।

निलंबन आदेश को चौरसिया ने हाईकोर्ट में चुनौती दी थी। कोर्ट ने सस्पेंशन पर रोक लगाते हुए स्टे ऑर्डर दिया है। यह दूसरी बार है जब चौरसिया को हाईकोर्ट से राहत मिली है। इससे पहले सीएम ने उन्हें पद से हटा दिया था, तब भी चौरसिया हाईकोर्ट से स्टे ले आए थे।

पहली बार रामाकोना में छीना था प्रभार(CMHO Ko Stay)

बात 23 सितंबर की है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान तब रामाकोना में जनसेवा कार्यक्रम में पहुंचे थे। तब उन्होंने मंच पर ही सीएमएचओ चौरसिया को बुलाया था। उनसे पूछा था- आयुष्मान कार्ड बनाने में देरी क्यों हो रही है? कितने हितग्राहियों को आयुष्मान योजना का लाभ मिल पाया? इसका जवाब सीएमएचओ नहीं दे पाए थे। इस लापरवाही पर सीएम ने तत्काल उन्हें सीएमएचओ के प्रभार से हटा दिया था। इसके बाद उन्हें रेडियोलॉजिस्ट के पद पर छिंदवाड़ा जिला अस्पताल में नियुक्त किया गया था, लेकिन चौरसिया हाईकोर्ट पहुंच गए थे, जहां से उन्हें स्टे मिल गया था। इसके बाद उन्होंने दोबारा अपना पद संभाल लिया था।

दूसरी बार बिछुआ में मंच से सस्पेंड किया(CMHO Ko Stay)

छिंदवाड़ा के बिछुआ में 9 दिसंबर को हितग्राही सम्मेलन हुआ था। यहां मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी पहुंचे थे। सीएम ने जब सीएमएचओ चौरसिया को कार्यक्रम में देखा तो उनके मौजूद होने का कारण पूछा। सीएम को हाईकोर्ट के स्टे ऑर्डर की जानकारी मिली। इसके बाद उन्होंने मंच से ही CMHO को सस्पेंड करने का ऑर्डर दे दिया।

हाईकोर्ट में सीएमएचओ ने ये दलील दी…(CMHO Ko Stay)

सीएमएचओ बुधवार को दोबारा स्टे ऑर्डर लेकर आ गए। हाईकोर्ट में अपने निलंबन को लेकर डॉ. जीएस चौरसिया ने याचिका दायर की थी। बताया था कि उन्हें दो बार सस्पेंड किया जा चुका है, जबकि उनके खिलाफ किसी भी तरह की जांच नहीं हुई। इसके अलावा सीनियोरिटी होने के बावजूद भी उनके जूनियर अधिकारियों को सीएमएचओ का प्रभार दिया गया था। हाईकोर्ट ने तमाम दलीलों को सुनने के बाद छिंदवाड़ा जिले के सीएमएचओ को राहत दी है।

कमलनाथ ने कहा था- नौटंकी कर रहे शिवराज(CMHO Ko Stay)

6 दिन पहले कमलनाथ छिंदवाड़ा आए थे। सीएम शिवराज के ऑन द स्पॉट सस्पेंशन एक्शन पर कमलनाथ ने कहा था- ये दिखाने के लिए उनकी नाटक-नौटंकी है। मंच पर तो कह देंगे कि मैंने सस्पेंड किया, पर क्या कागजों में किया? ये अब बौखलाए हुए हैं, कोई न कोई उपाय ढूंढ रहे हैं मीडिया में रहने के लिए। मैं हमेशा कहता हूं कि इनके पास बचा है पुलिस, पैसा और प्रशासन।

Source – Internet

Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

BJP Congress – कमलनाथ को लेकर भाजपा-कांग्रेस आमने-सामने

भाजपा ने कमलनाथ पर लगाए आमला की उपेक्षा करने के आरोप, कांग्रेस...

PM Candidate – कमलनाथ ने 2024 के लिए घोषित किया PM कैंडिडेट 

भारत जोड़ों इतिहास की सबसे लम्बी पद यात्रा नई दिल्ली – PM...