Monday , 15 April 2024
Home देश Petrol Two Wheeler – अब इन शहरों में अगले माह से नहीं खरीदे जाएंगे पेट्रोल टू-व्हीलर
देशबिज़नेस

Petrol Two Wheeler – अब इन शहरों में अगले माह से नहीं खरीदे जाएंगे पेट्रोल टू-व्हीलर

Petrol Two Wheelerजैसा कि हम सभी जानते हैं कि सरकार इलेक्ट्रिक वाहनों को अधिक महत्व देने के लिए हर यथा संभव जो भी हो वह प्रयास कर रही है जिससे कि प्रदूषण को कंट्रोल किया जा सके। आपकों एक महत्वपूर्ण बात यह भी बता दे कि अब भारत में एक ऐसा शहर भी है जहां के लोगों ने विचार कर लिया है |

कि वे अगले महीने से पेट्रोल स्कूटर या बाइक नहीं खरीद पाएंगे। पंजाब प्रान्त के चंडीगढ़ में रहने वाले लोगों को एक बहुत बड़ा झटका लग सकता है, खासतौर से ये उन लोगों के लिए है जो अगले महीने नया पेट्रोल स्कूटर लेने का विचार बना रहे हैं।

बता दें कि चंडीगढ़ प्रशासन ने हाल ही में इस बात की घोषणा कर दी है कि अगले महीने यानी जुलाई से आंतरिक कंबशन इंजन के साथ आने वाले दो पहिया वाहनों का पंजीकरण जल्द ही बंद कर दिया जाएगा।

नए पंजीकरण बंद करने का निर्णय यूनियन इलेक्ट्रिक व्हीकल के तहत लिया गया | Petrol Two Wheeler

केवल यही नहीं, अगले महीने से दो पहिया वाहन तो वहीं दिसंबर से गाड़ियों का भी पंजीकरण बंद कर दिया जाएगा। आपके भी मन में अब ये सवाल अवश्य ही उठ रहे होंगे कि आखिर क्या है ऐसा करने के पीछे का कारण क्या है। और इस बात का जिक्र भी किया गया है कि सरकार चाहती है |

कि लोग पेट्रोल की गाड़ियों को छोड़कर इलेक्ट्रिक गाड़ियों की तरफ अपना रुख करें। नए पंजीकरण को बंद करने का निर्णय यूनियन टेरिटरीज इलेक्ट्रिक व्हीकल पॉलिसी 2022 के तहत लिया गया है। बता दें कि इस बात की जानकारी मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार सामने आई है।

अगले माह से बंद करने के पीछे ये है कारण

सरकार चंडीगढ़ में ग्रीन और इको फ्रेंडली ट्रांसपोर्टेशन के लक्ष्य को जल्द से जल्द पूरा करना चाहती है। क्योंकि नए पंजीकरण को बंद करने से पहले साल गाड़ियों में 10 प्रतिशत तक की कमी और 35 प्रतिशत तक पेट्रोल दो पहिया वाहनों की संख्या में कमी देखने को मिलेगी। आपको यह भी बता दें कि साल 2023-2024 का टारगेट चार पहिये वाले वाहनों में 20 प्रतिशत और 70 प्रतिशत दो पहिया वाहनों को कम करने का लक्ष्य है।

केवल इतने स्कूटर्स और बाइक्स का ही होगा पंजीकरण | Petrol Two Wheeler

नई पॉलिसी के अनुसार इस फिस्कल ईयर में केवल 6 हजार 202 नॉन इलेक्ट्रिक दोपहिया वाहनों को रजिस्टर किया जा सकता है तो वहीं चार पहिया वाहनों के लिए ये लिमिट 22 हजार 626 है। बता दें कि अब तक इस फिस्कल ईयर में 4 हजार 032 दोपहिया वाहन रजिस्टर हो चुके हैं |

इसका मतलब कि 31 मार्च 2024 तक केवल 2170 पेट्रोल से चलने वाले स्कूटर्स और बाइक्स को ही रजिस्टर किया जा सकेगा लेकिन आशंका यह भी जताई जा रही है कि इस महीने यानी जून में ही इसका आंकड़ा पूरा हो सकता है।

Source – Internet

Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

फ्री सिलाई मशीन योजना का लाभ जाने कैसे ले |Free Silai Machine Yojana

Free Silai Machine Yojana : देश के बेरोजगार नागरिकों के लिए रोजगार...

जाने वन्दे भारत ट्रैन में क्या क्या मिलती है सुविधा और कितना आ सकता है इसका खर्चा | Vande Bharat

Vande Bharat: भारतीय रेल जल्‍द ही नई वंदे भारत स्‍पीलर एक्‍सप्रेस ट्रेनों...

Maha Shivratri Mehndi designs : महाशिवरात्रि श्रावण महोत्सव के अवसर  पर लगाएं ये खास मेहंदी डिजाइन 

इस महाशिवरात्रि पर्व पर कई महिलाएं मेहंदी लगाना पसंद करती हैं। इस...

MSP Price – सरकार ने तय किया गेहूं, सरसों व चने का MSP, जानिए कब से होगी खरीद

MSP Price – नई दिल्ली: भारत सरकार ने 2023-24 के रबी विपणन...