Monday , 15 April 2024
Home देश Shankh Puja Vidhi – पूजा में शंख का उपयोग करते समय भूलकर भी न करें ये गलती
देश

Shankh Puja Vidhi – पूजा में शंख का उपयोग करते समय भूलकर भी न करें ये गलती

Shankh Puja Vidhiयदि आप अपने घर में देवताओं की पूजा करते समय शंख का उपयोंग करते समय भूलकर भी न करें ये गलती वरना आपकों हो सकती है परेशानी क्योंकि शंख बजाने के कुछ नियमों के अनुसार समुद्र मंथन के दौरान समुद्र में निकले नवरत्नों में से एक शंख भी है जो कि हिंदू धर्म में बहुत ज्यादा महत्वपूर्ण माना गया है। घर में शंख किस विधि से रखने और बजाने पर मिलता है शुभ फल।

अनदेखी करने पर व्यक्ति को पुण्य लाभ की बजाय दोष लग सकता है | Shankh Puja Vidhi

हिंदू धर्म से जुड़े लगभग सभी मंदिरों और घरों में आपने देखा होगा कि लोग अक्सर किसी धार्मिक या मांगलिक कार्यो के समय ही शंख को बजते हुए सुना ही होगा। जिस शंख को सनातन परंपरा में मंगल के रूप में पूजा और बजाया जाता है, उसे अपने घर में रखने और इसका प्रयोग करने के लिए भी बहुत कुछ नियमों का उल्लेख किया गया है।

जिनकी अनदेखी करने पर व्यक्ति को पुण्य लाभ की बजाय दोष लगता भी लग सकता है। तो आइए समुद्र मंथन से निकले नवरत्नों में से एक शंख है धार्मिक एवं वास्तु नियमों के बारे में जानते हैं, जिनका पालन करने पर व्यक्ति की पूजा जल्द ही सफल और सिद्ध होती है।

धार्मिक मान्यता के अनुसार पूजा घर में शंख कितने होने चाहिए

हिंदू धार्मिक मान्यता के अनुसार पूजा घर में देवताओं को जल चढ़ाने के लिए अलग और पूजा के समय बजाने के लिए अलग से एक शंख आपकों पूजा घर में अवश्य ही रखना चाहिए। और इसी प्रकार से जब कभी भी आप शंख को बजाएं, उसे हमेशा धोकर और साफ कर कर ही इसका उपयोग करे और शंख को उचित आसन या पात्र में रखें।

पूजा के समय कितनी बार बजाना चाहिए शंख | Shankh Puja Vidhi

हिंदू धर्म मान्यता के मुताबिक ज्यादातर ईश्वर की पूजा एवं मंगल कार्यो में ही शंख का उपयोग किया जाता है। यदि हम बात करेें घरों में होने वाली रोज की पूजा-पाठ की तो शंख को हमेशा सुबह के समय में और शाम के समय में ही पूजा के दौरान जरूर बजाना चाहिए।

इसके अलावा और कोई भी प्रहर में शंख को बिना कीसी कारण के नहीं बजाना चाहिए। हिंदू धार्मिक मान्यता के अनुसार पूजा के दौरान जब कभी भी शंख बजाना हो तो सबसे पहले भगवान श्री हरि का स्मरण करना चाहिए और उसके बाद ही शंख को एक साथ तीन बार बजाना चाहिए।

शंकर जी की पूजा में कभी न करें शंख का उपयोग

हिंदू धार्मिक मान्यता के मुताबिक जहां पर भी भगवान श्री हरि विष्णु जी की पूजा में शंख का उपयोग किया जाता है और वह बहुत ही ज्यादा शुभ और फलदायी माना गया है, वहीं देवों के देव महादेव की पूजा में विशेषकर शंख का प्रयोग करना पूरी तरह से मना है। शिव की पूजा में कभी भी जल चढ़ाने या फिर बजाने के लिए शंख का उपयोग नहीं किया जाता है।

पूजा घर में शंख किस स्थान पर रखना चाहिए | Shankh Puja Vidhi

आपकों अपने पूजा घर में शंख को रखने के लिए भी कुछ जरूरी नियमों का पालन करना चाहिए क्योंकि वास्तु शास्त्र के नियमों के अनुसार ही शंख को हमेशा पूजा घर में भगवान श्री विष्णु की मूर्ति के दायी ओर रखना चाहिए। यदि आप शंख को पूजा घर की बजाय किसी और जगह पर रखना चाहते हैं l

तो आप उसे अपने पूजा घर की उत्तर या फिर उत्तर पूर्व दिशा में किसी पवित्र स्थान पर रख सकते हैं। शंख को वहां पर किसी आसन या पात्र में इस तरह से रखें कि उसका खुला हुआ भाग ऊपर की ओर रहे।

क्या है शंख से संबंधित खास उपाय

हिंदू धर्म के अनुसार घर में शंख को रखने और बजाने का बहुत ज्यादा धार्मिक महत्व बताया गया है। मान्यता है कि यदि ईश्वर की पूजा करने के बाद शंख में जल भर कर पूरे घर में छिड़का जाए तो घर के भीतर की जितनी भी नकारात्मक ऊर्जा होती है। वह पलभर में ही दूर हो जाती है और उस घर में हमेशा भगवान श्री विष्णुजी के साथ माता लक्ष्मी की कृपा हमेशा बरसती है।

Source – Internet

Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

जाने वन्दे भारत ट्रैन में क्या क्या मिलती है सुविधा और कितना आ सकता है इसका खर्चा | Vande Bharat

Vande Bharat: भारतीय रेल जल्‍द ही नई वंदे भारत स्‍पीलर एक्‍सप्रेस ट्रेनों...

Maha Shivratri Mehndi designs : महाशिवरात्रि श्रावण महोत्सव के अवसर  पर लगाएं ये खास मेहंदी डिजाइन 

इस महाशिवरात्रि पर्व पर कई महिलाएं मेहंदी लगाना पसंद करती हैं। इस...

MSP Price – सरकार ने तय किया गेहूं, सरसों व चने का MSP, जानिए कब से होगी खरीद

MSP Price – नई दिल्ली: भारत सरकार ने 2023-24 के रबी विपणन...

Kheti Kisani – खेतों में फसलों को सुरक्षित रखने सबसे फायदेमंद है नीम का तेल

कीटों को भी प्रभावी ढंग से करता है नियंत्रित  Kheti Kisani –...