Saturday , 24 February 2024
Home देश Hanuman Puja Tips – हनुमान जी के किस रूप की पूजा करने से मिलेगा कौन सा फल
देश

Hanuman Puja Tips – हनुमान जी के किस रूप की पूजा करने से मिलेगा कौन सा फल

Hanuman Puja Tipsहनुमान जी के अनेकों स्वरूपों की पूजा अनेक प्रकार से की जाती है। पवनपुत्र हनुमान जी के इन रूपों की विशेष पूजा-पाठ करने से हर तरह के दुख और तकलीफ भी पलभर में ही दूर हो जाती है। घर में उनके किस स्वरूप की पूजा की जाए और उससे क्या लाभ मिलता है।

बजरंगबली की श्रद्धापूर्वक पूजा करने से होगी हर मनोकामनाएं पूरी l Hanuman Puja Tips

हिंदू धर्म में जितना महत्व पूजा-पाठ का है उतना ही दिन के हिसाब से भगवान की पूजा का भी है। वैसे तो मंगलवार का दिन बजरंगबली की पूजा के लिए समर्पित है। जो भी भक्त इस दिन बजरंगबली को श्रद्धापूर्वक और सच्चे मन से पूजा-पाठ करता है। उसकी सभी मनोकामनाएं भगवान पल भर में ही पूरी करते हैं और सभी दुखों को हर लेते हैं।

अपने इसी चमत्कारी गुणों के कारण रामभक्त हनुमान को संकट मोचन भी कहा जाता है। हनुमान जी के अनेकों स्वरूप को पूजा जाता है। पवनपुत्र हनुमान जी के इन स्वरूपों की विशेषतौर पर पूजा करने से हर दुख – तकलीफ भी पल भर में दूर हो जाती है। घर में उनके किस स्वरूप की पूजा की जाए और उससे क्या फल मिलता है।

पंचमुखी हनुमान जी का स्वरूप

हनुमान जी के पंचमुखी स्वरूप की पूजा जिस घर में की जाए वहां आ रहे हर दुख और कष्ट पल भर में ही दूर हो जाते हैं और तरक्की के रास्ते भी खुल जाते हैं।

अगर आपके घर पर कोई नकारात्मक शक्ति का साया महसूस हो रहा है तो पंचमुखी हनुमान जी की फोटो लगाना सबसे अच्छा माना जाता है।
ये फोटो ऐसी जगह पर लगाएं जहां पर सभी इसे देख सकें।

भगवान के पंचमुखी स्वरूप की फोटो लगाने से बुरा साया घर में प्रवेश नहीं करता है। पौराणिक मान्यता के अनुसार रावण के पुत्र अहिरावण के वध के लिए हनुमान जी ने पंचमुखी रूप को भी धारण किया था।

वीर हनुमानजी की फोटो l Hanuman Puja Tips

वैसे तो वीर हनुमान जी की पूजा-अर्चना करने से मनुष्य को पराक्रम, बल और आत्मविश्वास की प्राप्ति होती है। भगवान के इस रूप के नाम में ही वीर लगा हुआ है। इससे उनके पराक्रम का पता चलता है। यदि आपके किसी भी विशेष कामकाज में आ रही रुकावटों से उनके इस रूप को पूजने से दूर होती है।

एकादशी हनुमान

कालकार मुख नाम के भयानक एक दैत्य के वध के लिए हनुमान जी ने प्रभु श्री राम की आज्ञा से एकादशी रूप को धारण किया था। उन्होंने शनिवार के दिन राक्षस और उसकी सेना का वध कर दिया था। हिनदू धर्म मे मान्यता यह भी है कि हनुमान जी के एकादशी रूप की पूजा करने से सभी देवी-देवताओं की पूजा का फल अवश्य ही पल भर में मिल जाता है।

दास हनुमान

हनुमान जी का यह रूप अक्सर फोटों में ही दिखाई देता है। और इन रूपों वाले हनुमान जी भगवान राम के चरणों में हाथ जोड़कर बैठे दिखाई देते हैं। इस तरह की मूर्तियां ज्यादातर घरों में ही दिखाई देती हैं। हनुमान जी के इन रूपों की विशेषतौर पर पूजा करने से मनुष्य में समर्पण और सेवा की भावना को बढ़ावा देती है और हमेशा वह मनुष्य सफलता प्राप्त करता है।

रामभक्त हनुमान

हनुमान जी ने श्रीरामजी की विशेष भक्ति करते हुए हनुामन जी के इस स्वरूप की पूजा करना बहुत ही शुभ माना जाता है। और उनकी इस तस्वीर में हनुमान जी के हाथ में करताल दिखाई देती है। उनके इस रूप को पूजने से जीवन का हर लक्ष्य बिना किसी भी अड़चन के आसानी से प्राप्त किया जा सकता है।

सूर्यमुखी हनुमान

हिन्दू धार्मिक शास्त्रों के अनुसार इस संसार को रोशनी देने वाले भगवान सूर्य देव को हनुमान जी का गुरु माना गया है। और हनुमान जी के इस सूर्यमुखी स्वरूप की पूजा की जाए तो विद्या, बुद्धि, ज्ञान, तरक्की और सम्मान भी मिलता है। सूर्यमुखी हनुमान पूर्वमुखी हनुमान भी कहलाते हैं l

Source – Internet

Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Mahashivratri 2024 : शादी में आ  रही है बांधा , तो महाशिवरात्रि पर जरुर  करे, ये उपाय

महाशिवरात्री 2024: आपकी जानकारी के लिए बता दें कि महाशिवरात्री का त्योहार...

Voter ID Card – गुम हो गया आपका वोटर ID तो आसानी से घर बैठे करें अप्लाई 

प्रोसेस पूरा होते ही घर आ जाएगा डुप्लीकेट वोटर आईडी  Voter ID...