Tuesday , 16 April 2024
Home Active Royal Enfield की पहले की कीमत देख उड़ने लगे होश, बच्चे की साइकिल भी नहीं इतनी सस्ती जितनी हुआ करती थी Bullet
Active

Royal Enfield की पहले की कीमत देख उड़ने लगे होश, बच्चे की साइकिल भी नहीं इतनी सस्ती जितनी हुआ करती थी Bullet

Royal Enfield की पहले की कीमत देख उड़ने लगे होश, बच्चे की साइकिल भी नहीं इतनी सस्ती जितनी हुआ करती थी Bullet,अपने क्लासिक डिजाइन और विशिष्ट ध्वनि के लिए मशहूर रॉयल एनफील्ड आज भी उत्साही लोगों के दिलों में एक खास जगह रखती है। अपने व्यापक सेवा नेटवर्क और अनुकरणीय ग्राहक सेवा के लिए जाना जाने वाला यह प्रतिष्ठित मोटरसाइकिल ब्रांड सवारों के बीच आत्मविश्वास जगाता है।

रॉयल एनफील्ड बाइक्स के सदाबहार डिजाइन और इसके शाही सौंदर्यशास्त्र ने उन्हें विशेष रूप से युवाओं के बीच एक समर्पित प्रशंसक बना दिया है। अतीत में, रॉयल एनफील्ड केवल परिवहन का एक साधन नहीं था; वह राजसी प्रवृत्ति वाले लोगों के लिए गौरव का प्रतीक थे।

बुलेट का यथार्थवाद हमेशा इसके सवारों के लिए गर्व का स्रोत रहा है। बुलेट की आगामी पुनरावृत्ति भव्य प्रवेश के लिए पूरी तरह तैयार है और इसने उत्साही लोगों के बीच बातचीत और प्रत्याशा बढ़ा दी है। कंपनी ने उन्हें नए और मजबूत गुण दिए और उनकी विरासत को जारी रखना सुनिश्चित किया।

1986 के फ्लैशबैक से एक दिलचस्प बात का पता चलता है – रॉयल एनफील्ड बुलेट 350 की कीमत उस समय एक बच्चे की पॉकेट मनी के बराबर थी। सोशल मीडिया पर चल रहा खुलासा हमें पुरानी यादों में ले जाता है और बाइक की ऑन-रोड कीमत सिर्फ 18,700 रुपये बताती है। 1986 का यह पुराना बिल फिर से सामने आ गया है, जिसने बुलेट के नए रूप के बारे में वर्तमान चर्चा में पुरानी यादों का स्पर्श जोड़ दिया है।

हाल ही में झारखंड स्थित संदीप ऑटो कंपनी द्वारा साझा किया गया एक वायरल ड्राफ्ट इस तथ्य पर प्रकाश डालता है कि 1986 में, रॉयल एनफील्ड बुलेट 350 को केवल एनफील्ड बुलेट के रूप में जाना जाता था। बिल पर दिखाई गई ऑन-द-रोड कीमत उस समय इस प्रतिष्ठित मोटरसाइकिल की उपलब्धता और मूल्य के बारे में बताती है।

Royal Enfield की पहले की कीमत देख उड़ने लगे होश, बच्चे की साइकिल भी नहीं इतनी सस्ती जितनी हुआ करती थी Bullet

यह जानना दिलचस्प है कि 1980 के दशक में भी, रॉयल एनफील्ड बुलेट को इसके मजबूत निर्माण, शाही उपस्थिति और विश्वसनीयता के लिए मनाया जाता था। इसकी ताकत और विश्वसनीयता को समझते हुए भारतीय सेना ने सीमावर्ती इलाकों में गश्त के लिए बुलेट का इस्तेमाल किया।

यह भी पढ़िए: Sarkari Yojana : मध्य प्रदेश सरकार फ्री साइकिल वितरण योजना 2024 के द्वारा  बच्चों को दी जाएगी फ्री में साइकिल, जानिये आवेदन की प्रक्रिया 

जैसे-जैसे बुलेट अपने नए अवतार के लिए तैयार हो रही है, इसके समृद्ध इतिहास, क्लासिक डिजाइन और स्थायी विरासत के बारे में बातचीत मोटरसाइकिल उत्साही लोगों को आकर्षित करती रहती है। रॉयल एनफील्ड न केवल एक ब्रांड है बल्कि एक सांस्कृतिक घटना भी है जो पीढ़ियों से गौरव, विश्वसनीयता और कालातीत शैली की कहानियां बुनती है।

Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Road Accident | चलती बाइक को बारहसिंघा ने मारी टक्कर

बाइक सवार दंपत्ति घायल, बरेठा घाट की घटना Road Accident – बैतूल...

Betul News | फॉरेस्ट चौकीदार पर जंगली सूअर ने किया हमला

हाथ पर काटा, खमालपुर बीट की घटना Betul News – बैतूल –...

Betul News | धूमधाम से मनाई बाबा साहेब की जयंती

Betul News – बैतूल | भारत रत्न डॉ. भीमराव अम्बेडकर की 133...

Betul News | मधु मक्खियों के हमले में घायल ग्रामीण की मौत

Betul News – मुलताई – थाना क्षेत्र के ग्राम करपा में गुरुवार...