Monday , 20 May 2024
Home देश Snake Precaution Plant – इन पौधों को लगाए अपने घरों में सांप इसे सूंघते ही दूर से भाग जाएगें।
देश

Snake Precaution Plant – इन पौधों को लगाए अपने घरों में सांप इसे सूंघते ही दूर से भाग जाएगें।

Snake Precaution Plantभोपाल -बारिश के साथ शहर में जहरीले सांपों के निकलने और सर्पदंश के मामले काफी ज्यादा हद तक बढ़ जाते हैं। और ऐसे में सांप निकलने के मामले रोजाना सामने आते रहते हैं। तो ऐसे में लोगों के पास सर्प विशेषज्ञ को बुलाकर सांप को रेसक्यू करवाने के अलावा और दूसरा कोई रास्ता भी नहीं रहता है। ये समस्या यहां और बढ़ जाती है जब कहीं और व्यस्तता की वजह से निजी सर्प विशेषज्ञ और वन विभाग की रेस्क्यू टीम सही समय पर लोगों के घर पर नहीं पहुंच पाती है।

आयुर्वेद में एक ऐसे पौधे का महत्व है जिसकी गंध से सर्प घरों में नही आते | Snake Precaution Plant

ऐसे में लोगों को कोई और उपाय नहीं समझ में आता है और वे घबराहट के करण समय गुजारते हैं। विशेषज्ञों के अनुसार आयुर्वेद में एक ऐसे पौधे का जिक्र किया गया है, जिसकी गंध से ही सांप दूर भाग जाते हैं। इस विशेष गुणों के कारण ही इस पौधे को सर्पगंधा के नाम से ही जाना जाता है।

तो आपको भी इसके प्रभावों से अवगत कराते हैं।

चरक संहिता में इसका विशेष उल्लेख किया गया

आयुर्वेदाचार्य के अनुसार सर्पगंधा के अनूठी और प्राकृतिक औषधि है। इसके पौधे का विषद वर्णन मिलता है। महर्षि चरक ने (1000-800 ई.पू.) सर्पगंधा का जिक्र सर्पदंश तथा कीटदंश के उपचार हेतु लाभप्रद विषनाशक औषधि के रुप में किया है। सर्पगंधा से जुड़ी अनेक प्रकार की कथाएं भी हैं। यह सर्प के काटने पर दवा के नाम पर इसका उपयोग भी किया जाता है। सर्प के काटने के अलावा इसे बिच्छू काटने के स्थान पर भी लगाने से राहत मिलती है।

अजीब गंध है सर्पगंधा के पौधे की | Snake Precaution Plant

स्टेट फारेस्ट रिसर्च सेंटर के वैज्ञानिक के मुताबिक वनों की कटाई और अंधाधुंध उपयोग के चलते सर्पगंधा के पौधों की संख्या काफी हद तक कम हो गई है, लेकिन मंडला, डिंडौरी, कुंडम आदि जंगलों में यह अब भी मौजूद है।

इसे गांवों में घवल बरूआ, चंद्रभागा, छोटा चांद आदि के नामों से भी जाना जाता है। सर्पगंधा का वैज्ञानिक नाम सवोल्फिया सर्पेतिना है। इस पौधे में अद्भुत शक्ति होती है। इसकी गंध इतनी तेज होती है कि सांप इसे सूंघते ही दूर भाग जाते हैं।

सर्पगंधा

सर्पगंधा का पौधा बारिश में सांप को दूर भगाने के लिए बहुत ही ज्यादा फायदेमंद माना गया है। सर्पगंधा का ये पौधा अपने प्राकृतिक गुणों से भरपूर है। इसकी पहचान ये है कि इस पौधे की जड़ों का रंग पीला और भूरा होता है।

जबकि इसकी पत्तियां चमकीले हरे रंग की होती हैं। सर्पगंधा का वैज्ञानिक नाम सवोल्फिया सर्पेतिना है। इसे लेकर यह भी दावा किया जाता है कि इस पौधे की गंध इतनी तेज होती है कि सांप इसे सूंघते ही दूर से भाग जाते हैं।

मगवौर्ट

मगवॉर्ट का ये पौधा बारहमासी होता है। इसके बारे में यह भी कहा जाता है कि इसमें इतनी ज्यादा मात्रा में इसकी सुगंध होती है। हालांकि ये एक प्रकार की खरपतवार है। पर ऐसा माना जाता है कि सांप इसकी उपस्थिती को बिल्कुल भी पसंद नहीं करते हैं, बल्कि इससे बचते नजर आते हैं। हालांकि इसके लिए बहुत अधिक देखरेख की अवश्यकता भी होती है।

लहसुन

आप अपने घर मे हमेशा भोजन बनाने के साथ-साथ अन्य दवाओं के रूप में उपयोग की जाने वाली लहसुन का उपयोग भी करते है। तो फिर इसमें उपस्थित सल्फोनिक एसिड की वजह से इससे तेज गंध आती है। इसलिए सांप इसे पसंद नहीं करते हैं।

हालांकि सांपों को भगाने के लिए ये ज्यादा आवश्यक नहीं है कि आप इसका पौधा ही लगाएं। अगर आप लहसुन को नमक के साथ मिलाकर इसका पेस्ट तैयार करते हैं तो भी इससे सांप को इससे दूर भगाने का दावा किया जाता है।

सोसाइटी लहसून

घास की तरह दिखने वाले ये पौधे लगभग एक फुट ऊंचे होते हैं। इनमें करीब दो फीट के डंठलों पर तारों की तरह दिखने वाले बैगनी रंग के नलीदार फूल गर्मियों के मौसम में ही अधिकतर खिलते हैं। और सबसे अच्छी बात ये है कि ये पौधा जितना सर्दी में सर्वाइव करता है उतना ही गर्मी के दिनों में भी ये जीवित रह सकता है। सोसाइटी लहसुन एक प्रकार का फूल वाला पौधा होता है जो दक्षिणी अफ्रीका का मूल निवासी है। सांप को भगाने वाले मजबूत गुणों के अलावा, यह पौधा कई अन्य चीजों के लिए उपयोगी है।

प्याज

प्याज में सल्फोनिक एसिड की मात्रा अधिक पाई जाती है। जिसके कारण जब हम उन्हें काटते हैं तो वे हमारी आंखों से आंसू आने लग जाते हैं। चूंकि प्याज में यह एसिड होता है, यही कारण है? कि इसके तेज प्रभाव से इसे सांप विकर्षक माना जाता है। ऐसा भी माना जाता है कि बहुत सारे माली सुझाव देते हैं कि प्याज को पीसकर कर इसे नमक के साथ मिलाकर अपने घर के आसपास छिढ़काव करने से सांप घर के आसपास भी नहीं भटकते।

मदर इन लॉज टंग

इस पौधे को काफी लंबे रूटस्टॉक्स के चलते मदर इन लॉज टंग का नाम दिया गया है। ये किसी जीभ की तरह तेज और नुकीले होते हैं। हालांकि सांप इस पौधे का रूप पसंद नहीं होता इसलिए ये इस पौधे से दूर भागते हैं। इसलिए इन्हें प्रभावी सांप विकर्षक पौधा भी माना गया है।

लेमन ग्रास

लेमन ग्रास एक प्रकार का विशेष औषधीय पौधा है, जो विशेष रूप से दक्षिण-पूर्वी भाग में अधिकतर मात्रा में पाया जाता है। इसके घास जैस दिखने के कारण इसे लेमन ग्रास के नाम से भी जाना जाता है। और इसकी खुशबू भी नींबू जैसी होती। इसे लगाने से सांप और मच्छर दोनों ही दूर भागते हैं।

Source – Internet

Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Indian Railways | रेल यात्रियों के लिए बड़ी खुशखबरी, वेटिंग टिकट कैंसलेशन चार्ज को लेकर हुआ बदलाव 

जाने अब काटेंगे कितने रूपये  Indian Railways – भारतीय रेलवे ने यात्रियों...

Gold Silver Rate Today | आज सोना हुआ सस्ता तो चांदी हो गई महंगी 

जाने आज के ताजा रेट  Gold Silver Rate Today – आज, यानी...

NEET UG Admit Card | नीट यूजी 2024 एडमिट कार्ड जल्द होगा जारी!

NEET UG Admit Card – नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) द्वारा आयोजित होने...

Supreme Court | स्त्रीधन पर नहीं पति का कंट्रोल – सुप्रीम कोर्ट

यह महिला की पूर्ण संपत्ति, मर्जी से खर्च करने का हक Supreme Court...